नारी शक्ति पुरस्कार के लिए नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख 6 फरवरी तक बढ़ी

- ब्यूरो रिपोर्ट -

नई दिल्ली। महिला और बाल विकास मंत्रालय ने प्रतिष्ठित नारी शक्ति पुरस्कार - 2020 के लिए नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख 6 फरवरी तक बढ़ा दी है। महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में व्यक्तियों आदि द्वारा उल्लेखनीय कार्य को सम्मानित करते हुए महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा प्रति वर्ष 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर नारी शक्ति पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं।



नारी शक्ति पुरस्कार निर्णय लेने वाली भूमिका में महिलाओं की भागीदारी, परम्परागत और गैर-परम्परागत क्षेत्रों में महिलाओं के कौशल विकास, ग्रामीण महिलाओंको बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने, विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी जैसे गैर-परम्परागत क्षेत्रों में महिलाओं को प्रोत्साहित करने, खेलकूद, कला और संस्कृति तथा महिलाओं की संरक्षा और सुरक्षा, स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती, शिक्षा, जीवन शैलियों, सम्मान एवं गरिमा को बढ़ावा देने आदि के महत्वपूर्ण कार्य करने वाले व्यक्तियों/समूहों/स्वयंसेवी संगठनों/संस्थानों आदि को प्रदान किया जाता है। पुरस्कार के अंतर्गत प्रशस्ति पत्र और दो लाख रुपए की सम्मान राशि दी जाती है।   

दिशानिर्देशों के अनुसार इन क्षेत्रों में न्यूनतम पांच वर्ष तक काम करने वाला कम से कम 25 वर्ष आयु का कोई भी व्यक्ति और संस्थान पुरस्कार के लिए नामांकन का पात्र है।

पुरस्कार में ऐसे व्यक्तियों अथवा संस्थानोंआदि की उपलब्धि को मान्यता दी जाती है जिन्होंने अपनी उम्र, भौगोलिक सीमाओं या संसाधनों के अभाव जैसी बाधाओं को पार करते हुए अपने सपने पूरे किए। उनके मजबूत इरादे समाज को और विशेषकर युवाओं को स्त्री-पुरुष के बीच रूढ़ीवादी भेदभाव को दूर करने के लिए प्रेरित करते हैं। यह उन्हें लैंगिक असमानता और भेदभाव के विरुद्ध खड़े होने को प्रोत्साहित करते हैं। यह पुरस्कार समाज की प्रगति में महिलाओं की समान भागीदारी को मान्यता देने का प्रयास है। विस्तृत जानकारी के लिए लिंक पर जाएं -

http://narishaktipuraskar.wcd.gov.in/

Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप