सेंसेक्स ने बनाया एक नया रिकॉर्ड, इतिहास में पहली बार 50,000 के पार

 - ब्यूरो रिपोर्ट -

जयपुर। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के बेंचमार्क सेंसेक्स ने आज एक नया रिकॉर्ड बनाया। इतिहास में पहली सेंसेक्स 50,000 के पार चला गया। फिलहाल ये 0.67 फीसदी की बढ़त के साथ 50,125 के आसपास नजर आ रहा है। सेंसेक्स अपने मार्च के निचले स्तर 25,638 से करीब दोगुना हो गया।



आज का दिन इंडियन कैपिटल मार्केट के लिए बेहतर दिन है। 21 जनवरी को 50,000 का स्तर छू कर नया कीर्तिमान बनाया है। पिछले 5,000 अंकों की बढ़त सिर्फ 32 ट्रेडिंग सेशंस में देखने को मिला है। दुनिया में ब्याज दरों में गिरावट के माहौल में भारतीय इकोनॉमी में कोरोना वैक्सीननेशन और लगातार जारी इन्फ्लो के चलते इकोनॉमी और बाजार में जोरदार रिकवरी की उम्मीद बढ़ी है। जिसके चलते यह बढ़त आई है। हालांकि बजट के पहले हमें बाजार में एक अस्थाई छोटी गिरावट देखने को मिल सकती है। लेकिन आगे बाजार में तेजी जारी रहेगी। बाजार की आगे की गति इकोनॉमी और कंपनी नतीजों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। इसके अलावा बाजार की नजर दुनिया और भारत में महंगाई और ब्याज दरों की चाल पर भी बनी रहेगी।

भारतीय बाजार की इस ग्रोथ स्टोरी में विदेश निवेश का बड़ा हाथ है। पिछली तिमाही में रिकॉर्ड नेट खरीदारी के बाद जनवरी में विदेशी निवेशकों ने 2.6 अरब डॉलर का निवेश किया। कोरोना वायरस के चलते लागू लॉकडाउन के खुलने के बाद इकोनॉमी में आई गति और इसके आगे भी जारी रहने की उम्मीद से निवेशकों का कॉन्फिडेंस बढ़ा है और वो बाजार में पैसे लगा रहे हैं। जिसका असर भारतीय बाजारों में देखने को मिल रहा है।

बता दें कि 1990 में सेंसेक्स ने पहली बार 1000 का स्तर छुआ था। आज के कारोबार में निफ्टी 50 इंडेक्स ने न्यू हाई लगाया। फिलहाल अभी यह करीब 96 अंकों की उछाल के साथ 14740 के आसपास नजर आ रहा है।

Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप