शायर मुनव्वर राणा के ख़िलाफ़ एफ़आईआर, धर्म के आधार पर दुश्मनी को बढ़ावा देने का आरोप

लखनऊ। लखनऊ पुलिस ने मशहूर शायर मुनव्वर राणा के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की  है। राणा के ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए सहित कई अन्य धाराओं के तहत मुक़दमा दर्ज किया गया है। इनमें कहा गया है कि राणा ने धर्म के आधार पर अलग-अलग समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा दिया है। हज़रतगंज कोतवाली के सब इंस्पेक्टर दीपक कुमार पांडे की ओर से लिखवाई गई शिकायत के आधार पर एफ़आईआर दर्ज की गई है। 



फ्रांस में पैगंबर मुहम्मद साहब पर बने कार्टून के बाद हुई हत्या की घटना के कारण दुनिया भर में माहौल तनावपूर्ण है। एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में शिक्षक की हत्या के सवाल पर मशहूर शायर मुनव्वर राणा के बयान को लेकर भी विवाद हो रहा है। राणा ने कहा था, ‘अगर अभी कोई शख़्स मेरे बाप का कोई ऐसा कार्टून बना दे गंदा, मेरी मां का कोई ऐसा गंदा कार्टून बना दे तो हम तो उसको मार देंगे।’ 


राणा ने हिंसा को जायज ठहराते हुए कहा था, 'मैं भी होता तो वही करता।' बता दें कि इतिहास के प्रोफ़ेसर पैटी ने अभिव्यक्ति की आज़ादी पर लेक्चर देने के दौरान शार्ली एब्दो के पैगंबर मुहम्मद साहब पर बने कार्टून दिखाए थे। इसके बाद उनकी हत्या कर दी गई थी। इस हिंसा के बाद से फ्रांस में इसे अभिव्यक्ति की आज़ादी पर आतंकी हमला बताया जा रहा है तो मुसलिम देश इसे धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला बता रहे हैं। शार्ली एब्दो का विवाद 2011 में पहली बार तब सामने आया था जब उसने मुहम्मद साहब के कार्टून छापे थे। शार्ली एब्दो एक फ्रांसीसी व्यंग्य छापने वाली साप्ताहिक पत्रिका है।


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक