चीन में फिर रफ़्तार पकड़ने लगा फिल्म उद्योग, टिकट खिड़की भी आबाद

बीजिंग। कोविड-19 महामारी की वजह से इस साल की पहली छमाही में चीन के फिल्म उद्योग पर बड़ा प्रभाव पड़ा। चीन में महामारी की रोकथाम में सफलता पाने के चलते करीब 190 दिनों तक बंद होने के बाद फिल्म बाजार फिर से उठने लगा है।महामारी के बाद चीन में सिनेमाघर 20 जुलाई को फिर से खुले, तब उपस्थिति दर 30 प्रतिशत तक सीमित थी। उसके बाद 14 अगस्त को उपस्थिति दर 50 प्रतिशत तक बढ़ायी गई। महामारी की स्थिति बेहतर होने के बाद 25 सितंबर से सिनेमाघर में उपस्थिति दर हर बार 75 प्रतिशत तक कर दी गई है। बॉक्स ऑफिस की कमाई भी तेज गति से होने लगी है।



इस साल राष्ट्रीय दिवस के दौरान बॉक्स ऑफिस की कमाई निस्संदेह बहाल हो रहे चीनी फिल्म बाजार के लिए रामबाण है। राष्ट्रीय दिवस की छुट्टियों के पहले चार दिनों में चीन में बॉक्स ऑफिस ने 2 अरब 49 करोड़ 70 लाख युआन का बिजनस किया, जो राष्ट्रीय दिवस के दौरान बॉक्स ऑफिस के इतिहास में दूसरे स्थान पर है। बॉक्स ऑफिस की सबसे अधिक कमाई पिछले साल हुई, क्योंकि पिछले साल नए चीन की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ थी, राष्ट्रीय दिवस के दौरान बहुत-सी फिल्में रिलीज हुईं। महामारी की स्थिति में इस साल इतनी ज्यादा कमायी हुई, जो सच में अद्भुत है।


हालांकि, चीन में महामारी की रोकथाम में विजय प्राप्त कर ली गई है और लंबे समय तक कोई स्थानीय मामला सामने नहीं आया है, लेकिन सिनेमाघरों में फिर भी रोकथाम के सख्त कदम उठाए जा रहे हैं। सभी कर्मचारियों को ड्यूटी पर आने से पहले और सभी दर्शकों को सिनेमाघर में प्रवेश करने से पहले शारीरिक तापमान लेना और मास्क पहनना अनिवार्य है। दर्शकों को अपने सही नाम से ही ऑनलाइन टिकट बुक करना होता है और खरीदना होता है। सिनेमाघरों में लॉबी, बाथरूम और गलियारे जैसी सार्वजनिक जगह और टिकट मशीन, प्रवेश द्वार व वेंडिंग मशीन जैसे उपकरणों को दिन में कई बार रोगाणु नष्ट किया जाता है। सिनेमाघरों में सीट और 3डी चश्मे जैसी चीजों को हर फिल्म के बाद कीटाणुओं से मुक्त किया जाता है।


इन सब कदमों से फिल्म उद्योग के पुनरुत्थान को सुनिश्चित किया गया। वास्तव में कोविड-19 महामारी फैलने से पहले चीन के फिल्म उद्योग का तेज विकास का दौर रहा था। चीनी फिल्म वितरण और प्रोजेक्शन एसोसिएशन के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2019 में पूरे चीन में सिनेमाघरों की संख्या 12,408 रही और स्क्रीन की कुल संख्या 69,787 तक जा पहुंची, जो सब दुनिया के पहले स्थान पर रहीं। श्रेष्ठ फिल्में और दर्शकों के उत्साह के चलते चीनी फिल्म बाजार जल्दी बहाल हो जाएगा। उत्तरी अमेरिका क्षेत्र की तुलना में चीन में बॉक्स ऑफिस की कमाई सिर्फ 4 अरब युआन कम है। यह कमी जल्दी खत्म होगी। अनुमान है कि चीन इस साल से दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म बाजार बन जाएगा।


Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप