एनएसडी के चेयरमैन का पद परेश रावल की झोली में, सरकार से नजदीकी काम आई

नई दिल्ली। हिंदी फिल्मों के जाने-माने अभिनेता और भाजपा के पूर्व सांसद परेश रावल एक बार फिर सुर्खियों में हैं। वैसे तो वे अक्सर सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने के कारण सुर्खियों में खुद को बनाए रखते हैं लेकिन इस बार सरकार  ने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा यानी एनएसडी के चेयरमैन पद से परेश रावल को नवाजा है। परेश रावल केंद्र सरकार के नजदीकी माने जाते हैं और लोगों का मानना है कि इस नजदीकी के कारंण  ही उन्हें यह पद मिला है। 


संस्कृति मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने इस अवसर पर ट्वीट करते हुए कहा कि परेश रावल को एनएसडी चेयरमैन बनाने का फायदा देश भर के कलाकारों को और छात्रों को मिलेगा।



पद्मश्री अवार्ड से 2014 में सम्मानित परेश रावल राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के साथ-साथ कई अन्य पुरस्कार भी जीत चुके हैं वहीं रावल को सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता के तौर पर फिल्मफेयर पुरस्कार भी दिया जा चुका है। परेश रावल ने 22 वर्ष की उम्र में सिविल इंजीनियर की पढ़ाई के बाद फिल्म अभिनेता के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की और इसके बाद हास्य अभिनेता के तौर पर प्रसिद्धि हासिल की। हेरा फेरी, गरम मसाला, मालामाल वीकली, चाची 420, नायक, भागम भाग, गोलमाल, और हलचल जैसी फिल्मों में जबरदस्त अभिनय करने वाले परेश रावल ने 'सर' फिल्म में विलेन का किरदार इस तरह निभाया कि रावल को इस फिल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ सह अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया।


65 साल के परेश रावल सिनेमा और थिएटर दोनों के मंझे हुए कलाकार हैं और उनके पास अभिनय का सालों का तजुर्बा है। अपनी नियुक्ति पर उन्होंने कहा, 'यह चुनौतीपूर्ण लेकिन मजेदार होगा। मैं अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ करूंगा क्योंकि यह एक ऐसा फील्ड है  जिसे मैं बहुत ही अच्छी तरह से जानता हूं।' संस्कृति मंत्रालय में मीडिया एडवाइजर नितिन त्रिपाठी ने बताया कि परेश रावल को 4 साल के लिए एनएसडी चेयरमैन नियुक्त किया गया है।


परेश रावल की शादी स्वरूप संपत से हुई है।  स्वरूप 1979 में मिस इंडिया रह चुकी हैं।  


गौरतलब है कि नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से निकले कलाकारों ने अपने अभिनय से दुनिया भर में धूम मचाई है। यहां से निकले कलाकारों की फेहरिस्त यूं तो बहुत लंबी है लेकिन इनमें कुछ प्रमुख नाम हैं - अनुपम खेर, नसीरुद्दीन शाह, दिवंगत इरफान खान, ओमपुरी, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, आशुतोष राणा, राज बब्बर, नीना गुप्ता, पंकज कपूर, सतीश कौशिक, अन्नू कपूर, संजय मिश्रा, वीरेंद्र सक्सेना और मुकेश तिवारी।


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक