सुशांत की दिवंगत मैनेजर दिशा के पिता ने की मीडिया के खिलाफ कार्रवाई की मांग

मुंबई। इधर केंद्र सरकार ने अभिनेता सुशांतसिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच सीबीआई से कराने की बिहार सरकार की मांग को मंजूर कर लिया है और दूसरी तरफ सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान के पिता सतीश सालियान ने मीडिया के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करते हुए मुंबई पुलिस को एक पत्र लिखा है। आपको बता दें कि दिशा ने 8 जून को मुंबई के मलाड क्षेत्र की एक बहुमंजिला इमारत से कूदकर कथित तौर पर खुदकुशी कर ली थी। इसके बाद 14 जून को सुशांतसिंह राजपूत अपने अपार्टमेंट में फंदे से लटके मिले थे।



दिशा सालियान के पिता ने बुधवार को मुंबई पुलिस को लिखे पत्र में कहा कि दिशा की मौत के मामले में परिवार को किसी गड़बड़ी की आशंका नहीं है और वे मुंबई पुलिस द्वारा की गई जांच से पूरी तरह संतुष्ट हैं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि पत्र में दिशा के पिता ने यह भी आरोप लगाया कि पत्रकार और मीडिया के लोग मुंबई पुलिस में उनकी आस्था के संबंध में बार-बार सवाल पूछकर परिवार को तंग कर रहे थे।


दिशा की मौत के संबंध में मालवणी पुलिस थाने में दुर्घटनावश मृत्यु का मामला दर्ज किया गया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि दिशा के पिता सतीश सालियान ने सहायक पुलिस आयुक्त, मालवणी को लिखे पत्र में कहा कि पत्रकार और मीडिया द्वारा उनके परिवार को मुम्बई पुलिस में उनकी आस्था और पुलिस की जांच के तरीके को लेकर लगातार सवाल करके परेशान किया जा रहा है। अधिकारी ने कहा कि दिशा के पिता सालियान ने अपने पत्र में उनके परिवार के प्रति असंवेदनशील कृत्य को लेकर पत्रकारों नेताओं और मीडिया के खिलाफ कार्रवाई करने की पुलिस से मांग भी की।


सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के मामले की जांच के सिलसिले में मुंबई पुलिस ने अभी तक बालीवुड के फिल्म निर्माता आदित्य चोपड़ा, महेश भट्ट और संजय लीला भंसाली सहित 56 व्यक्तियों के बयान दर्ज किये हैं। अब उसे अपनी जांच की प्रगति से न्यायालय को अवगत कराना है। पटना के राजीव नगर थाने में 25 जुलाई को दर्ज प्राथमिकी में रिया पर आरोप लगाया गया है कि उसने ही सुशांत को आत्महत्या के लिये मजबूर किया। रिया ने इस मामले में पटना में दर्ज प्राथमिकी मुंबई स्थानांतरित करने का अनुरोध किया है। सुप्रीम कोर्ट में न्यायमूर्ति ऋषिकेश रॉय की एकल पीठ ने वीडियो कांफ्रेन्स के माध्यम से रिया की याचिका पर सुनवाई की। न्यायमूर्ति रॉय ने अपने आदेश में कहा, ‘‘एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुयी जिसमे एक प्रतिभाशाली कलाकार का निधन ऐसी परिस्थितियों में हो गया जो अस्वाभाविक हैं। अब उन परिस्थितियों की जांच की आवश्यकता है जिनमे यह मौत हुई।’’


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!