स्पैनिश फिल्म ‘फादर.....' के कारण फिर लौटी सिनेमाघरों की रौनक

मुंबई। मनोरंजन जगत में पिछले कुछ समय से यह बहस तेजी से चल रही है कि क्या लोग फिर से सिनेमाघरों का रुख करेंगे। इस बारे में ज्यादातर लोगों का मानना है कि कोरोना वायरस से आतंकित लोग अब शायद ही सिनेमाघरों की तरफ लौटें, जबकि एक दूसरी राय यह भी है कि जैसे ही हालात नाॅर्मल होंगे, आम दर्शक फिर से सिनेमाघरों का रुख करना चाहेंगे। इसी सिलसिले में हाल ही रिलीज स्पेन की एक फिल्म ने बड़ी उम्मीदें पैदा कर दी हैं। इस फिल्म का टाइटल है- ‘फादर देयर इज ओनली वन-2' (Padre No Hay Más Que Uno 2) और यह फिल्म इसी टाइटल से पहले बनी फिल्म का सीक्वल है।



दिलचस्प बात यह है कि इस फिल्म ने अपनी पिछली फिल्म की तुलना में ज्यादा अच्छा कारोबार किया है और इसके कारण स्पेन के सिनेमाघरों में  रौनक लौट आई है। इस स्पैनिश फिल्म की कामयाबी ने यह उम्मीद जगा दी है कि दुनियाभर के लोग अब लाॅकडाउन खत्म होने के बाद बेसब्री से सिनेमाघरों में आने का इंतजार कर रहे हैं।


स्पैनिश फिल्म के सीक्वल ने महामारी के समय में अब तक 8% बेहतर कारोबार किया है, हालांकि पिछले साल की तुलना में जब फिल्म का पहला भाग रिलीज किया गया था, इस वक्त स्पेन में बेहद कम सिनेमाघर को फिर से शुरू किया गया है। इसका निर्माण सोनी पिक्चर्स इंटरनेशनल प्रोडक्शंस और बोफिंगर ने  किया है। यह 2019 में रिलीज हुई एक पारिवारिक कॉमेडी फिल्म का सीक्वल है। पहले भाग ने 15.9 मिलियन डॉलर की कमाई की थी, जबकि  इस सीक्वल की कमाई 17 मिलियन डॉलर से अधिक हो सकती है।


स्पेनिश उद्योग का उदाहरण लेते हुए, उद्योग के व्यापार विशेषज्ञ कोमल नाहटा ने भारतीय मनोरंजन उद्योग के कारोबार के बारे में भविष्यवाणी की है। उन्होंने कहा, 'यदि भारत में सिनेमाघरों के फिर से खुलने के साथ, जनता की इसी भावनाओं को दोहराया गया तो, यह उन सभी बॉलीवुड निर्माताओं के लिए एक सबक के रूप में सामने आएगा, जिन्होंने मुख्य रूप से अमेजन प्राइम, डिज्नी+ हॉटस्टार और नेटफ्लिक्स जैसे ओटीटी प्लेटफार्म पर अपनी फिल्मों का प्रीमियर करने की जल्दबाजी की है। उदाहरण के लिए, स्पेन का उदाहरण उन्हें यह सोचने के लिए मजबूर कर सकता है कि उन्होंने अपनी फिल्मों को रिलीज करने की जल्दी में, थिएट्रिकल रिलीज को दरकिनार कर दिया।'


दिलचस्प बात यह है कि वर्तमान में स्पेन में खुले सिनेमाघरों की संख्या 376 है जबकि मूल फिल्म के लिए 539 सिनेमाघर थे। दूसरे शब्दों में, सीक्वल ने पहले भाग की तुलना में 30% कम सिनेमाघरों के साथ बेहतर प्रदर्शन किया है, वह भी 30% से 80% के स्तर तक की क्षमता प्रतिबंध के साथ। यहां यह भी उल्लेख किया जा सकता है कि यूरोप के स्पेन में सबसे सख्त लॉकडाउन में से एक था।


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!