मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज को कोरोना, भोपाल में 10 दिन के लिए फिर से लॉकडाउन

भोपाल।  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।  कोरोना टेस्ट में मुख्यमंत्री पॉजिटिव आए हैं।  उन्होंने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। पिछले दिनों जिन लोगों ने शिवराज चौहान से संपर्क किया है, सीएम ने उनसे कोरोना टेस्ट कराने और क्वॉरंटीन में चले जाने की अपील की है। मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जल्द ही चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।



मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा, "मेरे प्रिय प्रदेशवासियों, मुझे कोविड-19 के लक्षण आ रहे थे, टेस्ट के बाद मेरी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मेरी सभी साथियों से अपील है कि जो भी मेरे संपर्क में आए हैं, वह अपना कोरोना टेस्ट करवा लें। मेरे निकट संपर्क वाले लोग क्वारन्टीन में चले जाएं।"


इस बीच भोपाल में शुक्रवार रात आठ बजे से 10 दिन के लिए फिर से लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। लॉकडाउन सिर्फ नगर निगम सीमा में रहेगा। इससे दूध, दवा, फल, सब्जी, उचित मूल्य दुकान, उद्योग और सरकारी कार्यालय सहित सभी अत्यावश्यक सेवाओं को बाहर रखा गया है। सरकारी कार्यालय 25 से 30 फीसद कर्मचारियों के साथ खोले जाएंगे। सभी निजी कार्यालय एवं व्यवसायिक संस्थान बंद रहेंगे। औद्योगिक क्षेत्रों में आने-जाने के लिए फैक्ट्री मालिक की ओर से जारी परिचय पत्र मान्य किए जाएंगे। अति आवश्यक काम से भोपाल नगर निगम सीमा के अंदर आने या बाहर जाने के लिए ई-पास लेने पड़ेंगे।राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए  10 दिन के लिए भोपाल में लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है।


भोपाल में लॉक डाउन को लेकर कलेक्टर अविनाश लवानिया ने आदेश भी जारी कर दिए हैं।इसके अनुसार सम्पूर्ण भोपाल को 10 दिन के लिए सम्पूर्ण लॉक डाउन किया जा रहा है। इस दौरान किराना व्यापारी भी अपने व्यवसाय का संचालन नही कर पाएंगे वहीं दूध और न्यूज़ पेपर वितरण के लिए सुबह 06:30 से 09:30 तक अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा दुकान खोलने या कोई भी नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई  के आदेश दिए गए हैं।


 


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!