जामिया के 3 पूर्व छात्रों को ऑस्कर के लिए जज की भूमिका निभाने का न्यौता

नई दिल्ली। जामिया मिल्लिया इस्लामिया के 3 पूर्व छात्र ऑस्कर के लिए जज की भूमिका निभाने जा रहे हैं।  उन्हें अमेरिका में एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेंस की तरफ से न्यौता मिला है।  एकेडमी ने 68 मुल्कों से फिल्म जगत के 800 से ज्यादा लोगों को मेंबरशिप का प्रस्ताव दिया है।  मेंबरशिप ऑफर करने का मकसद एकेडमी में सभी वर्ग के प्रतिनिधित्व को व्यापक करना है।



एकेडमी की पहचान दुनिया भर में इसके सालाना ऑस्कर समारोह के लिए है।  नई सदस्यता के लिए जिन लोगों को न्यौता भेजा गया है उनमें हॉलीवुड और बॉलीवुड सेलेब्रेटीज के अलावा भारत के फिल्मी प्रोफेशनल भी हैं।  डॉक्यूमेंट्री  कैटगेरी में जामिया मिल्लिया के पूर्व छात्र निष्ठा जैन, शेरले अब्राहम और अमित महादेसिया को एकेडमी का सदस्य बनने का प्रस्ताव दिया गया है। जामिया मिल्लिया के  कम्यूनिकेशन रिसर्च सेंटर से पढ़ाई के बाद निष्ठा ने फिल्म डायरेक्शन में  पुणे से दक्षता हासिल की।  उसके बाद प्रोफेशनल जिंदगी में उन्होंने फिल्मोग्राफी के क्षेत्र में कई अहम काम किए।  निष्ठा जैन को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 25 अवार्ड मिल चुके हैं।  इसके अलावा उन्हें प्रतिष्ठित कई फेलोशिप भी प्राप्त हो चुकी  है।  जूट टेक्सटाइल उद्योग की समस्या पर उनकी फिल्म द गोल्डेन थ्रेड को 2020 का चिकेन एंड एग अवार्ड मिल चुका है।  छह महिला डॉक्यूमेंट्री फिल्ममेकर्स के बीच जैन को प्रतिष्ठित अवार्ड के लिए चुना गया।


शेरले अब्राहम और अमित महादेसिया ने 2006 में कम्यूनिकेशन सेंटर से पढ़ाई करने के बाद कई अंतरराष्ट्रीय सीरीज के प्रोजेक्ट पर काम किया।  उनकी डॉक्यूमेंट्री सिनेमा ट्रेवेलर्स को कान फिल्म समारोह में दिखाया गया।  कान के अलावा टोरंटो, न्यूयॉर्क फिल्म समारोह में भी उनकी फिल्म काफी प्रशंसा बटोर चुकी है।  फिल्म को भारत में प्रेसिडेंट्स गोल्ड मेडल समेत 19 अवार्ड मिल चुके हैं।  फोटोग्राफी में भी अमित महादेसिया की प्रतिभा निखर कर सामने आ चुकी है।  उनके नाइट स्क्रीनिंग ऑफ ट्रेवेलिंग सिनेमा इन इंडिया नामक 12 फोटो की सीरीज को 2011 में वर्ल्ड प्रेस फोटो का अवार्ड मिल चुका है। 


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!