अनुभव सिन्हा और हंसल मेहता ने बॉलीवुड से किया किनारा, समर्थन में आए अनेक फ़िल्मकार

मुंबई। 'आर्टिकल 15' और 'थप्पड़'  जैसी फिल्‍मों के निर्देशक अनुभव सिन्हा ने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया है। कई दिन तक ट्विटर पर वाद-विवाद के बाद अब अनुभव सिन्हा ने एक बड़ा ऐलान कर लोगों को चौंका दिया।  उन्होंने बॉलीवुड से रिजाइन कर दिया ह।  इस मामले में हंसल मेहता भी उनका साथ देते और बॉलीवुड से किनारा करते दिख रहे हैं। 



पिछले कुछ दिनों से अनुभव सिन्हा लगातार नेपोटिज्म पर हो रही बहस पर अपनी राय रख रहे हैं। अनुभव ने ट्विटर पर अपने नाम के साथ ‘Not Bollywood’ जोड़ दिया है। अनुभव ने ट्वीट में लिखा- 'बस बहुत हो गया. मैं बॉलीवुड छोड़ रहा हूं।' उ‍नकी इस मुहिम को कई फिल्म मेकर्स का समर्थन मिल रहा है। सुधीर मिश्रा ने ट्वीट किया कि उनकी नजरों में बॉलीवुड कभी था ही नहीं, वे यहां सिर्फ अच्छी फिल्में बनाने आये थे। वहीं, हंसल मेहता ने अपने ट्वीट में लिखा- 'मैंने भी बॉलीवुड छोड़ दिया। ये पहले भी कभी अस्तित्व में नहीं था।'


पिछले दिनों 'थप्‍पड़' डायरेक्‍टर ने अपने ट्वीट के जरिये तबलीगी जमात पर निशाना साधा था, जिसकी वजह से उन्‍होंने जमकर सुर्खियों बटोरी थीं। निर्देशक ने ट्वीट किया था-  'इस तबलीगी ने हिंदुस्तान के मुसलमानों का जितना नुकसान किया है वो नाकाबिल-ए-बर्दाश्त है। जहालत की इंतिहा। अब भी सामने आकर अस्पतालों से और प्रशासन से मिलकर सहयोग करें सभी।'


गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्‍महत्‍या के बाद नेपोटिज्‍म को लेकर फिर से बहस छिड़ गई है। पिछले दिनों कंगना रनौत ने एक बातचीत में खुलासा किया था कि मित्र कमल जैन से बातचीत के बाद वह सुशांत से जुड़े कई राज जान चुकी हैं। उन्‍होंने कई नामों के खुलासे की ओर भी इशारा किया था, लेकिन शर्त यही है कि अगर उनसे पूछताछ हुई तभी वो खुलकर बोलेंगी। 


अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से बॉलीवुड में एक तूफान सा उठा है जो थमने का नाम नहीं ले रहा। जहां एक ओर पुलिस का कहना है कि सुशांत ने सुसाइड किया, वहीं फैंस उनकी मौत पर सीबीआई मांग कर रहे हैं। इसी सबके बीच बॉलीवुड की बड़ी हस्तियां लोगों के निशाने पर हैं।


अनुभव सिन्हा ने इस बात को भी क्लियर किया है कि वह फिल्में बनाते रहेंगे।  बुधवार को भी इसको लेकर उन्होंने कई ट्वीट किए।  एक ट्वीट में उन्होंने लिखा कि "बॉलीवुड था", जबकि दूसरे में लिखा "हिन्दी फिल्म होंगी" यानी बॉलीवुड उनका पास्ट है, जबकि हिंदी फिल्म फ्यूचर।  बहरहाल अनुभव क्या करेंगे अब तक यह क्लियर नहीं है, लेकिन लोगों का अनुमान है कि वह शायद सिर्फ ऑनलाइन फिल्मों पर काम करेंगे। 


 


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक