तमिल फिल्म इंडस्ट्री में भी सुशांत जैसे कई कलाकार, पॉपुलर डिजाइनर का चौंकाने वाला खुलासा

नई दिल्ली। सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद एक बार फिर से बॉलीवुड में वंशवाद को लेकर बहस छिड़ गई है, आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। सोशल मीडिया पर जहां कुछ सितारे बॉलीवुड में नेपोटिज्म का पर्दाफाश करते नजर आ रहे हैं, तो वहीं अब साउथ की एक मशहूर फैशन और कॉस्ट्यूम डिजाइनर वसुकी भास्कर ने तमिल फिल्म इंडस्ट्री को लेकर भी चौंकाने वाला खुलासा किया है। वसुकी भास्कर ने अपने ट्वीट में लिखा है कि तमिल इंडस्ट्री में बहुत से सुशांत सिंह राजपूत हैं। 



वसुकी भास्कर ने अपने ट्वीट में लिखा,' हमारे तमिल फिल्म उद्योग में बहुत से सुशांत सिंह राजपूत हैं, जिन्हें ना पेमेंट मिलती है ना समर्थन और ना ही सम्मान।  कुछ लोगों ने इस बारे में मुझे बताया है, कुछ लोग चुप रहते हैं और इस सौतेले व्यवहार को बर्दाश्त कर रहे हैं। ' डिजाइनर के इस ट्वीट ने तमिल फिल्म इंडस्ट्री का भी असली चेहरा हमारे सामने रख दिया है।  नेपोटिज्म का जहर सिर्फ बॉलीवुड में ही नहीं है, बल्कि तमिल इंडस्ट्री में भी कुछ कलाकार इस जहर का शिकार हो रहे हैं। 


सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद बॉलीवुड इंडस्ट्री से सबसे पहले कंगना रनौत ने नेपोटिज्म को लेकर अपनी आवाज उठाई थी।  कंगना ने सुशांत की आत्महत्या को मर्डर का नाम दिया।  वहीं कंगना ने भी इस बात का खुलासा किया कि वो भी कई बार वंशवाद का शिकार हो चुकी हैं, लेकिन उन्होंने खुद को मजबूती से खड़ा रखा।  कंगना के अलावा रवीना टंडन और सोनू निगम ने भी नेपोटिज्म को लेकर बॉलीवुड इंडस्ट्री का असली चेहरा सामने लाने का प्रयास किया।  बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई स्थित अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।  सुशांत सिंह के डिप्रेशन और उनकी मौत के लिए बॉलीवुड इंडस्ट्री का उनके प्रति सौतेला व्यवहार बताया जा रहा है, हालांकि चीजें अभी साफ नहीं हो पाई हैं कि सुशांत के आत्महत्या की असली वजह क्या है। 


Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप