सुशांत सिंह के निधन से दुखी हैं मैथिली ठाकुर, नहीं गाएंगी बॉलीवुड फिल्मों के गाने

पटना। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन से बिहार के लोगों में खासा गुस्सा दिखाई दे रहा है और वे लगातार फिल्म उद्योग जुडे कुछ कलाकारों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे है। इस बीच लोक गायिका मैथिली ठाकुर ने सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े मामले पर बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने अब बॉलीवुड में फ़िल्मी गाने नहीं गाने का फैसला किया है। उन्होंने अपने भाई के यूट्यूब चैनल के जरिए दर्शकों से बात करते हुए कहा, ‘मैं सुशांत सिंह राजपूत के निधन से बहुत आहत हूं। सुशांत की मौत की खबर सुनाने के तीन-चार दिन बाद मैं यूट्यूब पर आई हूं। हमने फैसला लिया है कि हम समझौता कर कोई काम नहीं करेंगे।" इसके अलावा मैथिली ने हाल में अपने फेसबुक लाइव में भी इस बारे में बात की।



आप को बता दें कि मैथिली ठाकुर के भाई ऋषभ ठाकुर ने यूट्यूब चैनल खोला है। इस पर दोनों भाई-बहन अपने परफॉर्मेंस के वीडियो लगातार शेयर करते हैं। उनके पास करोड़ों लोगों की फैन फॉलोइंग है। लोग उनके सिंगिंग टैलेंट की काफी तारीफ करते हैं और उनके कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुके हैं।


सुशांत के मौत की खबर सुनकर मैथिली के पिता रमेश ठाकुर ने दुख जताया था। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि मेरी बेटे मैथिली ने जब से सुशांत की मौत की खबर सुनी है तब से वो काफी दुखी है। हमारे परिवार को इस खबर से गहरा झटका लगा है। हम रोजाना टीवी पर सुशांत से जुड़ी खबरें देख रहे है। उनके साथ बॉलीवुड में जिस तरह का व्यवहार हुआ है इसके बाद मेरी बेटी मैथिली ने फैसला लिया है की वो अब से बॉलीवुड का कवर सॉन्ग नहीं गाएगी और न ही यूट्यूब चैनल पर इससे जुड़ा कोई गाना पोस्ट करेंगी।


मैथिली ठाकुर साल 2017 में राइजिंग स्टार के सीजन-1 का हिस्सा थी। उनकी गायकी ने लोगों का के दिल जीत लिया था, लेकिन वो ये शो जीत नहीं पाई। इस शो के बाद मैथिली ठाकुर बिहार में काफी मशहूर हुई। इसके बाद वो सोशल मिडिया पर एक्टिव हो गई। मैथिली ठाकुर सिर्फ भोजपुरी नहीं बल्कि कई भाषाओं में भी गीत गाती है। छठ गीत और कजरी गीत के लिए वो खास तौर पर जानी जाती है।


इससे पहले मैथिली ने अपने इस्टांग्राम पर कंगना रनौत का वीडियो पोस्ट किया था। इस वीडियो में कंगना रनौत ने सुंशात के जाने के बाद बॉलीवुड को काफी खरी ख़ोटी सुनाई है। उन्होंने इसमें नेपोटिज़्म पर निशाना साधा है। इस वीडियो को शेयर करते हुए मैथिली ने इससे सहमति जताई है।


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!