कोविड के बाद भी बना रहेगा ओटीटी प्लेटफॉर्म - अनुष्का शर्मा

मुंबई।  अभिनेत्री-निर्माता अनुष्का शर्मा को लगता है कि बड़े पर्दे पर फिल्म देखने के अनुभव का विकल्प कुछ भी नहीं हो सकता है। साथ ही वह महसूस करती हैं कि कोविड के बाद का युग एक नई लहर की शुरुआत करेगा, जहां ओटीटी प्लेटफॉर्म थिएटर की तरह "समान रूप से अस्तित्व में" रहेगा। बता दें कि महामारी के कारण फिल्म उद्योग बंद है और डिजिटल मीडियम अपने कंटेन्ट से उसकी भरपाई कर रहा है। यह पूछे जाने पर अनुष्का ने कहा, "ईमानदारी से बात करें तो ये असाधारण परिस्थितियां हैं, जो हम सभी अनुभव कर रहे हैं। मुझे लगता है कि इस समय के आधार पर कुछ भी आंकना संभव नहीं होगा।"



उन्होंने आगे कहा, "लेकिन हां, कुछ चीजें आगे आई हैं। मुझे लगता है कि डिजिटल प्लेटफॉर्म हमारे पास सिर्फ कोविड-19 की वजह से नहीं है, बल्कि इन वर्षों में खुद को उसने इस तरह स्थापित किया है कि वे अपनी अलग सामग्री के साथ एक लहर पैदा कर रहे हैं। उनकी एक व्यापक पहुंच है। बॉक्स-ऑफिस पर रिलीज के दबाव के कारण, कई आइडिया पर काम करना संभव नहीं हो पाता, जो डिजिटल पर संभव है। ऐसे में यही वह जगह है, जहां डिजिटल प्लेटफॉर्म स्पॉटलाइट लेते हैं।"
25 साल की कम उम्र में निर्माता बनी अनुष्का का कहना है, "यह इन प्लेटफॉर्म्स के साथ सही साबित हुआ है, जहां कुछ कहानियां, कुछ शो हैं जिन्होंने इन प्लेटफॉर्म पर अच्छा प्रदर्शन किया है। भारत में अच्छे दर्शक मिले हैं। उन्हें लोगों से सराहना मिली है।" अनुष्का ने अपने भाई कर्नेश शर्मा के साथ अपना प्रोडक्शन हाउस क्लीन स्लेट फिल्म्स लॉन्च किया और 'एनएच 10', 'परी', 'फिल्लौरी', और वेब-सीरीज 'पाताल लोक' जैसी अपारंपरिक कहानियों पर काम किया। 'पाताल लोक' उनके प्रोडक्शन की पहली डिजिटल सीरीज थी, जो हिट रही।
बता दें कि अभिनेत्री के प्रोडक्शन की अगली सुपरनेचुरल थ्रिलर फिल्म 'बुलबुल' रिलीज होने वाली है। उन्होंने आगे कहा, "आपको सितारों के साथ एक विशेष तरीके से एक फिल्म को बनाना होगा। कुछ कहानियां और कुछ अवधारणाएं हैं, जिन्हें (सिनेमा में) लाना कठिन है। हालांकि देश का इसमें एक विशाल दर्शक वर्ग है।"


Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप