बिछड़ गई संगीतकार साज़िद -वाज़िद की जोड़ी, कोरोना ने ली वाज़िद की जान

मुंबई। फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर संगीतकार वाज़िद  खान का रविवार देर रात निधन हो गया।  हालांकि वाज़िद  खान लंबे समय से हृदय की बीमारियों से परेशान थे, लेकिन शुरुआती जानकारी में बताया गया है कि उनका निधन कोरोना वायरस के कारण हुआ।  वाज़िद खान के निधन की खबर सुनकर फिल्म इंडस्ट्री एकदम सकते में आ गई उनके साथी संगीतकारों कलाकारों और दूसरे तमाम लोगों ने उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। वाज़िद  खान के निधन के बाद आज सवेरे जल्दी उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस दौरान उनके जनाजे में उनके भाई साजिद खान ने आगे बढ़कर सारी जिम्मेदारियां उठाई।  कोरोना वायरस के कारण लागू तमाम बंदियों के कारण फिल्म इंडस्ट्री के बहुत कम लोग वाज़िद  खान के अंत्येष्टि में शामिल हुए। 



संगीतकार जोड़ी साज़िद -वाज़िद  पिछले कई वर्षों से फिल्म इंडस्ट्री में सक्रिय थे और इस जोड़ी ने अनेक हिट गाने फिल्म संगीत को दिए लेकिन अब यह नामी साज़िद -वाज़िद की जोड़ी टूट गई है। वाज़िद खान की उम्र सिर्फ 42 साल थी। 
साज़िद -वाज़िद की जोड़ी ने सलमान खान की फिल्मों के साथ ही अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था और उसके बाद उन्होंने सलमान की कई फिल्मों का संगीत दिया जिनमें दबंग, एक था टाइगर, वांटेड जैसी फिल्में शामिल हैं।  साथ ही हीरोपंती जैसी फिल्में भी उन्होंने अपना संगीत दिया था। 
चेंबूर के सुराना हॉस्पिटल से उनका शव सीधे कब्रिस्तान ले जाया गया जहां उनके रिश्तेदार और इंडस्ट्री के बहुत थोड़े से लोग पहुंचे। इस दौरान वाज़िद  के भाई साज़िद  की आंखों से लगातार आंसू बह रहे थे। वाज़िद के जनाजे पर उनके अजीज दोस्त आदित्य पंचोली भी पहुंचे। हर कोई वाज़िद खान के जाने की इस खबर को सुनकर गम में डूब गया है। वाज़िद खान को उसी कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया गया जहां इरफान खान को सुपुर्द ए खाक किया गया था उनके जनाजे में वाज़िद की पत्नी यास्मीन और उनके बेटे और बेटी भी शामिल हुए। 


जैसे ही संगीतकार वाज़िद के निधन के बारे में दुखद समाचार इंटरनेट पर प्रसारित हुआ, उनके कई पूर्व सहयोगियों और फिल्म बिरादरी के सदस्यों को मानो झटका लग गया। सलीम मर्चेंट, विशाल ददलानी, हर्षदीप कौर, मिलाप झवेरी और कई अन्य लोग इस चौंकाने वाली खबर को जानने के बाद शोक में डूबे हुए हैं और सोशल मीडिया पर दिवंगत वाजिद खान को श्रद्धांजलि दी जा रही है।


 


 


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!