जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान  के पदाधिकारियों ने किया रक्तदान 

 

जयपुर । राजधनी जयपुर के नजदीकी कस्बे चौमूं में  राधास्वामी बाग स्थित बराला हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में जरूरतमंद लोगों के लिए स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया,  जिसमें स्वेच्छा से लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इसी दौरान चौमूं जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान- जार के पदाधिकारियों ने भी जरूरतमंद लोगों के लिए रक्तदान किया। इस मौके पर बराला हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के निदेशक डॉ श्रवण बराला ने कहा  कि कोरोना महामारी के चलते हुए रक्त की कमी हो रही थी। इसी को लेकर चौमूं एवं आसपास के युवाओं ने संकल्प लिया और अस्पताल में आकर स्वैच्छिक रक्तदान किया। उन्होंने कहा कि रक्त की एक बूंद किसी की जिंदगी बचा सकती है इसलिए अन्य युवाओं को भी इस बात से प्रेरणा लेनी चाहिए और जरूरतमंद लोगों के लिए स्वैच्छिक रक्तदान करना चाहिए। 


डॉ हनुमान बराला ने भी रक्तदाताओं का सम्मान करते हुए कहा कि इस संकट की घड़ी में ऐसे रक्तदाताओं का जितना सम्मान किया जाए उतना सम्मान भी कम है, क्योंकि पूरा देश इस समय कोरोना महामारी के चलते संकट में चल रहा है और चौमूं के युवाओं ने ऐसे संकट में जरूरतमंद लोगों के लिए रक्तदान का काम किया है।  रक्तदान से बढ़कर कोई दान नहीं हो सकता हैं। इस मौके पर चौमूं जर्नलिस्ट् एसोसिएशन ऑफ राजस्थान जार के अध्यक्ष मनोज सैनी ने पूरे देश में कोरोना महामारी के चलते हुए चिकित्सक, पुलिसकर्मी, प्रशासनिक अधिकारी और मीडिया के साथी कोरोना योद्धा बनकर काम कर रहे हैं और पत्रकार साथियों ने जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए रक्तदान किया है।  इस मौके पर जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ जार राजस्थान चौमूं के महासचिव रामलाल चौधरी ने भी रक्तदान किया। इस मौके पर जर्नलिस्ट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष नवरतन शर्मा,पत्रकार कैलाश पाराशर, पत्रकार डीके कुमावत सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक