कामगारों की सहायता के लिए एकता कपूर एक साल तक नहीं लेंगी वेतन

मुंबई। देश में कोरोनावायरस (कोविड-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए हर कोई अपनी तरफ से कुछ न कुछ प्रयास कर रहा है।  इसी क्रम में बालाजी टेलिफिल्‍म्‍स की जाइंट मैनेजिंग डायरेक्‍टर व क्रिएटिव हेड एकता कपूर ने अपने यहां काम करने वाले कामगारों की सहायता के लिए खुद वेतन नहीं लेने का निर्णय किया है।  एकता ने निर्णय लिया है कि वह बालाजी टेलिफिल्म्स में अपनी एक साल की सैलरी (करीब ढाई करोड़ रुपए) नहीं लेंगी।



एकता ने यह निर्णय इसलिए लिया है ताकि कोविड-19 महामारी के कारण चल रहे लॉकडाउन से उनके सहकर्मी आर्थिक रूप से प्रभावित न हों। एकता कपूर ने यह जानकारी एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिये दी है। इस पोस्ट में एकता ने लिखा है, ‘कोरोना संकट का प्रभाव काफी बड़ा और अभूतपूर्व है। ऐसे नाजुक दौर में हम सब को कुछ ऐसा करने की जरूरत है, जो हमारे आसपास मौजूद और देश के लोगों की कठिनाइयों को कुछ कम कर सके। मेरी पहली जिम्मेदारी ‘बालाजी’ में काम करने वाले दैनिक वेतनभोगी श्रमिकों और विभिन्न फ्रीलॉन्सर की देखभाल करना है, जो लॉकडाउन के दौरान शूटिंग बंद होने और आगे भी काम की अनिश्चितता की वजह से परेशान हैं।’


Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप