क्षेत्रीय भाषा का पहला इंटरनेट रेडियो शुरू



नई दिल्ली। बहुत पुरानी कहावत है कि दुनिया के किसी भी हिस्से में चले जाओ, वहां आपको एक न एक मलयाली जरूर मिल जाएगा। यह बात सही हो या नहीं, लेकिन जल्द ही लोगों को दुनिया के किसी भी हिस्से में ‘रेडियो मलयालम’ के रूप मे मलयालम इंटरनेट रेडियो का लुत्फ उठाने का मौका मिलने वाला है।सामचार 4 मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार इसके लिए 1.37 मिनट का एक जिंगल भी तैयार किया गया है। इस जिंगल को बिजिबल  और सौम्या रामाकृष्णन ने गाया है और इसके बोल हरि नारायण के हैं।



इस इंटरनेट रेडियो स्टेशन को केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कल लॉन्च किया।  इस प्रोजेक्ट को देश का क्षेत्रीय भाषा का पहला इंटरनेट रेडियो कहा जा रहा है। वेबसाइट  और मोबाइल ऐप के द्वारा 150 देशों के लोग इस रेडियो स्टेशन का लुत्फ उठा सकेंगे।





 


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक