कनिका कपूर का आरोप- एक अपराधी जैसा किया जा रहा है बर्ताव

लखनऊ। लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई अस्पताल में दाख़िल कनिका कपूर ने आरोप लगाया है कि अस्पताल में उनके साथ एक अपराधी जैसा बर्ताव  किया जा रहा है।  कनिका कपूर ने एक न्यूज़ वेबसाइट से बातचीत में आरोप लगाए कि पीजीआई में  जिस कमरे में उन्हें रखा गया है उसमें गंदगी है और मच्छर आते हैं।  कनिका का आरोप था कि जब डॉक्टरों से उसे साफ़ कराने के लिए कहा जाता है तो उनका जवाब होता है कि यह अस्पताल है, फ़ाइव स्टार होटल नहीं। 



दूसरी तरफ एसजीपीजीआई अस्पताल की ओर से जारी प्रेस रिलीज़ में कहा गया है कि कनिका को यहां हर संभव सुविधाएं दी जा रही हैं, बावजूद इसके वो एक मरीज़ की तरह नहीं बल्कि एक स्टार की तरह व्यवहार कर रही हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने पर कनिका कपूर को शुक्रवार को लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई अस्पताल में दाख़िल कराया गया था, लेकिन एक दिन बाद ही स्थिति ऐसी हो गई कि अस्पताल को एक प्रेस रिलीज़ जारी करके उनसे सहयोग की अपील करनी पड़ी। पीजीआई के निदेशक प्रोफ़ेसर आरके धीमान ने बताया, "हमने अस्पताल में उन्हें सबसे अच्छी सुविधा उपलब्ध कराई है, उन्हें एअरकंडीशन रूम दिया गया है जिसमें अटैच टॉयलेट है। साफ़-सफ़ाई का हर समय ध्यान रखा जा रहा है।  कमरे में टीवी भी लगा है। "


प्रोफ़ेसर धीमान कहते हैं, "पहले उन्होंने कहा कि मैं घर का खाना खाऊंगी लेकिन यह इस इलाज में संभव नहीं था। उनकी मांग पर यहां उन्हें ग्लूटन फ़्री फ़ूड दिया जा रहा है जो किचन में अलग से तैयार किया जाता है। उनकी आगे भी इसी तरह देखभाल की जाएगी लेकिन उन्हें भी यह सोचना चाहिए कि अस्पताल में वो एक मरीज हैं, स्टार नहीं।"


गायिका कनिका कपूर शुक्रवार को वह तब सुर्खियों में आईं जब उनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने का पता चला और जांच में उनकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई।  इससे पहले कनिका लखनऊ और कानपुर में कई सार्वजनिक कार्यक्रमों में हिस्सा ले चुकी थीं। लखनऊ में ऐसी ही एक पार्टी में राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह, यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह जैसे तमाम हाई प्रोफ़ाइल मेहमान भी शामिल थे। 


Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप