बिहार में पत्रकारों को हर महीने 6000 रुपए की पेंशन, राजस्थान में भी फॉर्म भरने की प्रक्रिया शुरू

जयपुर। राजस्थान में 60 वर्ष से अधिक उम्र के अधिस्वीकृत पत्रकारों के लिए पत्रकार सम्मान योजना के फॉर्म भरने का काम शुरू हो गया है। प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले  साल के बजट भाषण में पत्रकार सम्मान योजना का एलान किया था और 60 वर्ष से अधिक उम्र के अधिस्वीकृत पत्रकारों को हर महीने 5000 रुपये की सम्मान निधि देने की घोषणा की थी। लेकिन इस योजना को अमली जामा पहनाने में एक साल का वक़्त लगा और अब प्रदेश के सूचना और जनसम्पर्क विभाग ने पत्रकार सम्मान योजना के फॉर्म भरने का काम शुरू कर दिया है। 



 


इस बीच, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के पत्रकारों को एक बड़ी सौगात दी है। दरअसल, मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को बिहार पत्रकार सम्मान पेंशन योजना की शुरुआत की है। इसके तहत बिहार के पत्रकारों को हर महीने 6000 रुपए की पेंशन दी जाएगी। फिलहाल राज्य के 48 पत्रकारों को यह पेंशन मिलेगी। यह योजना 14 नवंबर 2019 से प्रभावी की गई है और पेंशन पाने वाले पत्रकारों को एरियर का भुगतान भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री के निर्देश पर शुक्रवार को 40 पत्रकारों के खाते में पेंशन की राशि स्थानांतरित कर दी गयी। इन 40 पत्रकारों के अतिरिक्त पांच पत्रकारों को 6 मार्च 2020 तथा तीन पत्रकारों को 16 मार्च 2020 के प्रभाव से पेंशन का लाभ मिलेगा।



जिन 40 पत्रकारों को नवंबर 2019 से लाभ मिलना है, उनके लिए 1.36 लाख रुपए का भुगतान किया गया है। वहीं, जिन पत्रकारों के पेंशन की स्वीकृति मार्च से दी गयी है, उनके खाते में पेंशन की राशि अगले महीने स्वीकृति के एक माह पूरा होने के बाद जाएगी।


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक

हम लोग गिद्ध से भी गए गुजरे हैं!