शेयर चैट पर सबसे ज्यादा कंटेंट हिंदी भाषा में

 


 


जयपुर। भारतीय भाषा में देश के सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफार्म शेयर चैट की एक रिपोर्ट के अनुसार उसके प्लेटफार्म पर सबसे ज्यादा कंटेंट हिंदी भाषा में हैं।  शेयर चैट पर भले ही 15 भारतीय भाषाओं में चैट करने की सुविधा हो, लेकिन इस पर सबसे ज्यादा हिंदी भाषियों का जलवा है। शेयर चैट ने वर्ष 2019 के लिए यूजर जनरेटेड कंटेंट (यूजीसी) के ट्रेंड और टॉपिक पर रिपोर्ट जारी करते हुए बताया है कि इस समय हिंदी से जुड़े कंटेंट की हिस्सेदारी 22.5 फीसदी है जो कि सबसे ज्यादा है। इसके बाद 19.4 फीसदी के साथ तमिल दूसरे स्थान पर है। तीसरे स्थान पर तेलुगू  है, जिसके कंटेंट की हिस्सेदारी 13 फीसदी की है।



रिपोर्ट के अनुसार अधिकांश भारतीय सोशल मीडिया पर मनोरंजन और रोमांस की बातें करने को तवज्जो देते हैं। हालांकि जब बात देश की होती है तो फिर वे राष्ट्रवादी हो जाते हैं। इसका खुलासा भारतीय भाषा में देश के सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफार्म शेयर चैट की एक रिपोर्ट से हुआ है। शुक्रवार को इस रिपोर्ट को जारी किया गया है।  इसके उपयोगकर्ता सबसे ज्यादा मनोरंजन से जुड़े कंटेंट अपलोड करते हैं। कुल कंटेंट में इसकी हिस्सेदारी 23 फीसदी की है। इस साइट पर दूसरी सबसे ज्यादा पोस्ट रोमांस से संबंधित है, जिसकी हिस्सेदारी 14 फीसदी है।


लेकिन आम चुनाव 2019, पुलवामा अटैक और विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी जैसी घटनाओं पर अधिकतर उपयोगकर्ता राष्ट्रवादी हो जाते हैं और राष्ट्रीय भावना को ऊपर उठाने जैसे कंटेंट ही पोस्ट ही करते हैं।रिपोर्ट के मुताबिक 15 अगस्त के आसपास तो लोग देशभक्ति से संबंधित सामग्री पोस्ट करते हैं। गौरतलब है कि शेयर चैट पर इस समय 15 भारतीय भाषाओं में कंटेंट पोस्ट करने की सुविधा है और इस पर अभी हर महीने करीब छह करोड़ एक्टिव यूजर पोस्ट डालते हैं।


इस सोशल साइट पर उत्तर प्रदेश, पंजाब, मध्य प्रदेश, राजस्थान और बिहार के उपयोगकर्ता सुबह सवेरे धार्मिक संदेशों का आदान प्रदान करते हैं लेकिन शाम में वे रोमांटिक संदेशों का आदान प्रदान करते हैं।


 


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक