सीएमएस वातावरण फिल्म फेस्टिवल में दुनिया भर की 77 फ़िल्में

 


इन दिनों देश के अलग-अलग हिस्सों में ढेरों फिल्म समारोह आयोजित किए जाने लगे हैं। लेकिन इनमें से कुछ एक ही हैं जिन्होंने अपने अलग-से विषयों के चलते देश-विदेश में पहचान हासिल की है। ऐसा ही एक फिल्म समारोह है 'सीएमएस वातावरण फिल्म फेस्टिवल' जो 27 से 30 नवंबर तक दिल्ली के जनपथ स्थित डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित किया जा रहा है। अपने दसवें बरस में पहुंच चुके इस प्रतियोगी फिल्मोत्सव में इस साल दुनिया के 60 देशों से एक हजार से भी ज्यादा फिल्में आईं जिनमें 77 फिल्मों को प्रदर्शन के लिए चुना गया है। वन्यजीवन, पर्यावरण, जीविका जैसे विषयों पर आधारित ये फिल्में तीन मिनट से सवा घंटे की अवधि की हैं जिनमें से 20 फिल्मों को नौ अलग-अलग वर्गों में पुरस्कृत भी किया जा रहा है। इस बार के फिल्म समारोह की थीम 'हिमालय' है। भारत सरकार का पर्यावरण और वन मंत्रालय भी इस फिल्म समारोह के साथ जुड़ा हुआ है जिसमें फिल्मों के प्रदर्शन के अलावा वातावरण से जुड़े विभिन्न विषयों पर चर्चाएं और वर्कशॉप आदि भी होंगी।



Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप