जयपुर म्यूजिक स्टेज 2020 की घोषणा- शुभा मुद्गल और ग्रैमी विजेता रिक्की केज देंगे दमदार प्रस्तुति

 जब जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल अपने 13वें संस्करण की जोरशोर से तैयारी में लगा है, तब इस सबसे बड़े लिटरेरी शो के समानांतर चलने वाले 'जयपुर म्यूजिक स्टेज' ने अपने कलाकारों की घोषणा  कर दी है।  भारत के दिल में बसे, और दुनिया के रंग में रंगे जयपुर म्यूजिक स्टेज पर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय  कलाकार मिलकर संगीत के अनेकों रूपों को श्रोताओं के सामने पेश करेंगे। अपने आप में अनोखा, जयपुर म्यूजिक स्टेज 2020 विविधता, दक्षता और सामंजस्य से बना है।


जयपुर म्यूजिक स्टेज पर प्रस्तुति देने वाले कलाकारों में लोकप्रिय फ्यूज़न आर्टिस्ट आभा हंजुरा भी शामिल रहेंगी। जोशीली लाइव परफ़ॉर्मर, आभा अपने कश्मीरी पॉप नंबर 'हुकुस बुकुस' से सबके दिलों पर छा गई थीं। उनके गाने को 3.2 मिलियन व्यूज मिले थे और उसे पॉपुलर वेब सीरिज द फैमिली मैन का साउंड ट्रैक भी बनाया गया। फेस्टिवल में डब्लिन के गायक-गीतकार गविन जेम्स भी शामिल होंगे, जिनके विडियो को लगभग दो बिलियन बार देखा गया| कंटेम्पररी इंडियन म्यूजिक बैंड परवाज़ भी जयपुर म्यूजिक स्टेज पर प्रस्तुति देंगे| इन्हें मई 2018 के रोलिंग स्टोन इंडिया के कवर पर प्रकाशित किया गया था| उन्हें मैगज़ीन ने 'भारत का सबसे एक्साइटिंग बैंड' कहा था।


23 जनवरी 2020 से शुरू होने वाले, जयपुर म्यूजिक स्टेज पर विश्व-विख्यात भारतीय संगीतकार, पर्यावरणविद और प्रोफेसर रिक्की केज भी शिरकत करेंगे| रिक्की ग्रैमी अवार्ड विजेता, यूएस बिलबोर्ड के #1 कलाकार, यूनेस्को MGIEP के एम्बेसडर और यूनिसेफ 'सेलेब्रिटी सपोर्टर' हैं| अनुभवी हिंदुस्तानी शास्त्रीय गायिका शुभा मुद्गल, जिन्हें भारत सरकार ने वर्ष 2000 में पद्म श्री से सम्मानित किया था और ब्रिटिश म्यूजिक ग्रुप ट्रांसग्लोबल अंडरग्राउंड, साथ मिलकर क्लब कल्चर और वर्ल्ड म्यूजिक का एक नया ही अनुभव प्रस्तुत करेंगे।


शाम की जोशीली शामों के साथ, जयपुर म्यूजिक स्टेज वर्कशॉप, मास्टर क्लासेस, चर्चा और सत्र भी आयोजित करेगा, जिससे संगीत-प्रेमियों को अपने पसंदीदा संगीतज्ञ से बात करते हुए, संगीत की बारीकियों को जान पाएंगे।


इंस्ट्रूमेंट, म्यूजिक टेक्नोलॉजी, इंडी लेबल और दूसरे साजो-सामान के साथ इस फेस्टिवल में म्यूजिक मार्किट की धज होगी| जयपुर म्यूजिक स्टेज पर सिर्फ साहित्यिक-प्रेमियों की चर्चा नहीं होगी; यह म्यूजिक उत्सव है, जो नई आवाजों और अनुभव को श्रोताओं तक पहुंचाएगा।           


टीमवर्क आर्ट्स के मैनेजिंग डायरेक्टर और जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के प्रोडूसर, संजोय के. रॉय ने कहा, “संगीत किसी भाषा और बॉर्डर को नहीं जानता! जयपुर म्यूजिक स्टेज शब्दों, दुनिया को जोड़ने और विविधता का उत्सव है| इस संस्करण में, जयपुर म्यूजिक स्टेज दुनिया के जाने-माने कलाकारों को एक मंच पर लायेगा, साथ ही म्यूजिक वर्कशॉप, मास्टरक्लासेस, चमचमाता नाईट बाज़ार और लजीज व्यंजनों की भरमार भी होगी|”                                 


Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप