‘इंडिया अलाइव शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल‘ में प्रदर्शित होगी विशेष बच्चों द्वारा बनाई फिल्में



जयपुर। जयपुर में आगामी 25 नवंबर को शाम 6 बजे आर्मी एरिया स्थित सप्त शक्ति सभागार में आयोजित होने वाले 'इंडिया अलाइव शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल 2019' में विशेष बच्चों द्वारा बनाई गई सात लघु फिल्में प्रदर्शित की जाएँगी । ये फिल्में एनजीओ - रेज आशा की एक किरण और फिल्मबग मुम्बई द्वारा प्रदर्शित की जा रही हैं । रेज आशा की एक किरण एनजीओ के सह-संस्थापक एवं प्रेसीडेंट गुरिंदर विर्क ने आज यह जानकारी दी।
उन्होंने आगे बताया कि इस फेस्टिवल में बाल परिकल्पनाओं, दोस्तों एवं परिवार की बांडिंग, समाज की होने वाली त्रासदियों, संगीत के साथ संदेश देने वाली फिल्मों की स्क्रीनिंग की जाएगी। ये फिल्में हैं - कचरा बीनने वाले एक बच्चे कहानी पर आधारित 'अपुन का सिनेमा'। इसमें यह बच्चा जैसे ही एक बेकार पडे़ हुए केन को खोलता है, तो वह एक जादुई दुनिया में पहुंच जाता है। 'तुम्हारी अधुर सोच' एचआईवी पॉजिटिव होने की वजह से दुत्कार दिए गए छह लड़कों की संगीतमय फिल्म है, जिसमें उनकी जीवन यात्रा को दर्शाया जाएगा। इसी प्रकार 'क्यूं?' फिल्म ऐसी लड़की की कहानी है जो अपने ही परिवार में यौन शोषण का शिकार होती है। 'ख़ुशी' एक उदास लड़की की कहानी है, जो अपने जीवन में खुशियां लाने का रास्ता तलाशती है। 'टूटता तारा' एक कचरा बीनने वाली लड़की और एक स्कूली छात्रा की खूबसूरत दोस्ती पर आधारित फिल्म है। इसी प्रकार 'जिंदगी से जंग' एक ऐसे गांव की कहानी है, जहां बहुत ही कम उम्र में लड़कियों एवं लड़कों की शादी करा दी जाती है। 'थेम्बे थेम्बे टाल सचे' एक मां और बेटे की खूबसूरत कहानी है, जिन्हें ईट के भट्टे में काम करते हुए कई बाधाओं का सामना करना पड़ता है।



Popular posts from this blog

मौत दबे पाँव आई और लियाक़त अली भट्टी को अपने साथ ले गई !

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ के निधन से मीडियाकर्मियों में हड़कंप