हरियाणा में खुलेगी फिल्म यूनिवर्सिटी

'सुलतान' और 'दंगल'​ जैसी फिल्मों से एक बार फिर चर्चा में आये  हरियाणा में सिनेमा उद्योग को बढ़ावा देने और इसे प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार जल्दी ही फिल्म नीति की घोषणा करेगी और इसके तहत प्रदेश में एक फिल्म विश्वविद्यालय भी स्थापित किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए ​हरियाणा सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि सिनेमा, सांस्कृतिक, सामाजिक, राजनीतिक तथा आर्थिक परिस्थितियों को अभिव्यक्त करता है और इससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लाखों लोगों को रोजगार उपलब्ध हो रहा है।


प्रवक्ता ने कहा कि राज्य की मौलिक सांस्कृतिक औरं आंचलिक पहचान के संरक्षण तथा संवर्धन के लिए राज्य सरकार शीघ्र ही फिल्म नीति की घोषणा करने जा रही है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में एक फिल्म विश्वविद्यालय भी स्थापित किया जाएगा।  प्रवक्ता ने कहा कि बॉलीवुड में हरियाणवी संस्कृति व हरियाणवी बोली अपना स्थान बनाती जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में फिल्म निर्माण की अपार संभावनाएं हैं। देश में हिन्दी सिनेमा के साथ समानांतर रूप से क्षेत्रीय सिनेमा का भी व्यापक विस्तार हुआ है।


प्रवक्ता ने कहा कि पहले फिल्मों में आम जनमानस के जीवनवृत्त तथा विभिन्न सामाजिक संदर्भों का समावेश रहता था, लेकिन आज यह प्रयोगात्मक हो गया है। मौजूदा समय में फिल्म निर्माण में व्यावसायिक उद्देश्यों की प्राथमिकता बढ़ती जा है। प्रवक्ता ने कहा कि फिल्मों में सामाजिक व नैतिक पहलुओं का सही रूप में समावेश करने की ओर अधिक ध्यान देने की भी आवश्यकता है। प्रवक्ता ने वर्तमान में उच्च सामाजिक व नैतिक मूल्यों को पोषित करने वाली प्रेरणादायक फिल्मों के अधिकाधिक निर्माण की आवश्यकता पर बल दिया।


Popular posts from this blog

‘कम्युनिकेशन टुडे’ की स्वर्ण जयंती वेबिनार में इस बार ‘खबर लहरिया’ पर चर्चा

ऑडियो-वीडियो लेखन पर हिंदी का पहला निशुल्क पाठ्यक्रम 28 जनवरी से होगा शुरू

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिये मनोरंजन उद्योग में आए बदलावों पर चर्चा के लिए वेबिनार 19 को