भूली हुई यादों की कहानी है 'रिमेंबर एमनेशिया'

जयपुर, 17 नवंबर। अमेरिका में रहने वाले फिजीशियन और फिल्मकार डॉ. रवि गोडसे की फिल्म 'रिमेंबर एमनेशिया' अगले हफ्ते रिलीज़ होने जा रही है।  फिल्म के बारे में डॉ. रवि गोडसे का कहना है कि उनकी यह फिल्म अतीत की गलियों की सैर कराती है और इन अर्थों में 'रिमेंबर एमनेशिया' भूली हुई यादों की कहानी है।  फिल्म 'रिमेंबर एमनेशिया' में हॉलीवुड, बॉलीवुड और मराठी कलाकार एक साथ नजर आएंगे। फिल्म में टोवाह फेल्डशुह, लीसा एन वाल्टर, कर्टिस कुक, दिलीप राव, श्रुति मराठे, महेश मांजरेकर, विजय पाटकर, मोहन अगाशे काम कर रहे हैं।


इस बारे में रवि गोडसे ने कहा, "सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं, बल्कि मराठी उद्योग भी दुनिया भर में अपनी पहचान बना रहा है।  इसीलिए हमने अपनी फिल्म में मराठी कलाकारों को भी अवसर दिया है, ताकि दुनिया भर के लोग उनकी कला को देख सकें और उसकी सराहना कर सकें।"


उन्होंने आगे कहा कि फिल्म में काम करने वाले सभी कलाकारों ने अपने-अपने क्षेत्रों में बेहतरीन काम किया है, अब यह समय है कि उनके काम को दुनिया के सामने लाया जाए। अंतत: इसमें प्रतिभा ही प्रमुख है, चाहे वह हॉलीवुड का हो, बॉलीवुड या किसी अन्य फिल्म उद्योग से हो।


'रिमेंबर एमनेशिया' में एक अमेरिकी चिकित्सक की कहानी बताई जाएगी, जो भारत का मूल निवासी है और भारत आने के दौरान एक दुर्घटना में अपनी याददाश्त खो देता है और उसे यह याद नहीं है कि उसने वास्तव में अपनी पत्नी की हत्या की थी या नहीं। डॉ. गोडसे द्वारा लिखित और निर्देशित यह फिल्म 22 नवंबर को रिलीज होगी।


Popular posts from this blog

जुनूनी एंकर पत्रकार रोहित सरदाना की कोरोना से मौत

'बालिका वधु' जैसे धारावाहिकों के डायरेक्टर रामवृक्ष आज सब्जी बेचने को मजबूर

'कम्युनिकेशन टुडे' ने पूरा किया 25 साल का सफ़र, मीडिया शिक्षा की 100 वर्षों की यात्रा पर विशेषांक